Wednesday, October 28, 2020
prachi

chandresh

1 Posts
0 Comments

मुर्दों के सम्प्रदाय

"पापा, हम इस दुकान से ही मटन क्यों लेते हैं? हमारे घर के पास वाली दुकान से क्यों नहीं?" बेटे ने कसाई की दुकान...