prachi

मदन मोहन मैत्रेय

नाम-मदन मोहन (मैत्रेय) पिता-श्री अमर नाथ ठाकुर पेशा- नीजी फार्म में नौकरी मैं ने बी.ए. तक की पढाई की है,जो 2021 के अंत तक संपन्न हो जाएगी। मैं मुलत: कविताएँ, गीत एवं सस्पेंस अधारित कहानियां लिखता हूं। मेरी कविताए हिन्द पब्लीकेशन में प्रकाशित हो चुकी है। मैं विभिन्न माध्यमों पर भी कार्यरत रहता हूं। मेरा कविता संग्रह "वैभव विलास,काव्य कुंज" एवं " जिन्दगी एक काव्यधारा" पेंशिल पब्लीकेशन में प्रकाशीत है। एवं मैं ने थ्रीलर स्टोरी "आँडिनरी किलर","फेसबुक टेजेड्री व "भंवर जाल,प्रेम और विश्वास" कंप्लीट कर लिया है और "अरावली द लिजेन्ड" पर कार्य कर रहा हूं। मेरी रचनाएँ मुख्यत: सामाजिक अवधारणाओं पर अधारित होते है। मैं अपनी रचनाओं में समाज के उन उलझे हुए विषयों को समाहित करता हूं, जो हमारे जीवन पर प्रभाव डालते है। साथ ही यह भी ध्यान रखता हूं कि वे रोचक हो।
8 Posts
3 Comments