शिकायत…

0
170

उसे कहें मासूमियत
या कह दें अन्जानापन
सर झुकाया गमों से
तो
उसको नज़ाकत मान गये।
उनका हर एक लफ्ज़ हम
अब तक इबादत समझा किये
हमने रखी जो खामोशियां
तो
उसको शिकायत मान गये ।।

कवयित्री एवं लेखिका।
कई साझा पुस्तकों में सहभागिता कर चुकीं हूँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here