‘बाल काव्य’ साझा संग्रह का ऑनलाइन विमोचन समारोह आयोजित

देशभर से 150 से अधिक साहित्यकारों ने ऑनलाइन विमोचन समारोह में प्रतिभाग किया विमोचन के बाद काव्य गोष्ठी का भी आयोजन किया गया, दो घंटो चलती रही काव्य गोष्ठी जयपुर।…

पूर्व न्यायाधीश एवं वरिष्ठ साहित्यकार डा. चन्द्रभाल सुकुमार का गज़ल संग्रह ‘आदमी अरण्यों में’ प्रकाशित

डा. चन्द्रभाल सुकुमार के अब तक दर्जनों पुस्तके प्रकाशित हो चुकी हैं दर्जनों साझा संग्रहों में भी उनकी रचनाएं सम्मिलित की गई है पूर्व न्यायाधीश एवं वरिष्ठ साहित्यकार डा. चन्द्रभाल…

विपरीत हालात में गुफ्तगू का कार्य सराहनीय

‘गुफ्तगू साहित्य समारोह-2018’ का किया गया आयोजन ‘सुभद्रा कुमारी चाहौन’ और ‘बेकल उत्साही’ सम्मान से नवाजे गए रचनाकारइलाहाबाद। आज लोग साहित्य से दूर भाग रहे हैं। पठन-पाठन लगातार कम होता जा…

हिन्दी की लोकप्रियता विश्वस्तर पर पर बढ़ रही हैः डॉ0 यज्ञ दत्त शर्मा

विश्वविद्यालय हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान की ओर से 16वें साहित्य मेला का आयोजनलखनऊ के नरेन्द्र भूषण को काव्य सम्राट की उपाधि से अलंकृत किया गयाइलाहाबाद, विश्वविद्यालय हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान…

नई पुस्तक : राधाकृष्ण नोबेल पुरस्कार कोश

'मेरा डायनामाइट दुनिया में शांति के लिए होनेवाले हजारों सम्मेलनों से भी जल्दी शांति ला देगा।’ —अल्फ्रेड नोबेलएक ऐसा विलक्षण कोश जो 116 सालों में बदली दुनिया का आईना हैं।डायनामाइट…

डॉ. फखरे आलम खान की ई-बुक अनाथ बच्ची का विमोचन

मेरठ। सोमवार को डॉ फखरे आलम खान द्वारा लिखित एंकाकी 'अनाथ बच्ची' ई-बुक का विमोचन शहर के एक होटल में किया गया।  अनाथ बच्ची ई-बुक का प्रकाशन एवं डिस्ट्रीब्यूशन प्राची…

अचला बंसल लिखित ‘बहरहाल धन्यवाद’ का लोकार्पण

बहरहाल धन्यवाद’ ‘थैंक्स एनीवे’ का हिंदी अनुवाद है।किताब की शीर्षक कहानी 29 वर्षीय महिला और 78 वर्षीय बुजर्ग के रिश्ते पर आधारित है।नई दिल्ली : अचला बंसल के कहानी- संग्रह…

बेहद ज़रूरी किताब है काव्य व्याकरण

इम्तियाज़ ग़ाज़ी की संपादित पुस्तक ‘काव्य व्याकरण’ का विमोचनदिलदानगर। यूं तो ग़ज़ल व्याकरण की बहुत सी किताबें जगह-जगह से छप रही हैं, यह एक चलन सा हो गया है। लेकिन…

सार्वजनिक पुस्तकालयों के कायाकल्प हेतु सम्मेलन 3 अक्टूबर से

इंडियन पब्लिक लाइब्रेरीज़ कांफ्रेंस (आईपीएलसी) का लक्ष्य पुस्तकालयों को जीवंत बनाना हैनई दिल्ली : इंडियन पब्लिक लाइब्रेरी मूवमेंट (आईपीएलएम) और नास्कॉम फाउंडेशन द्वारा तीसरी इंडियन पब्लिक लाइब्रेरीज़ कांफ्रेंस का आयोजन…

‘यादों के आईने में’ का हुआ लोकार्पण

उज़ैर ई. रहमान की ग़ज़ल और नज़्म का संकलन है यह पुस्तकनयी दिल्ली. गुरुवार शाम राजधानी स्थित ऑक्सफोर्ड बुकस्टोर में उज़ैर ई. रहमान की किताब ‘यादों के आईने में’ का…

End of content

No more pages to load