Saturday, October 31, 2020
prachi

Poems

Umeed

Manzilein doondhe Rasta ghor Andhera Chaya hn.... Ab Jeevan ujwal hoga aisa man mein Thana hn....... Mazi dhoodhe kinara sagar mein ghor tufan Chaya hn...... Ab Tufan...

Humsafar……

Zindagi mein humsafar manga tha virana safar nahi.... Dil ki batein samjhane vala nahi sunne vala manga tha...... Naa mano naa smajho naa Suno koi baat...

पहली रात

तेरे जिस्म मै अपने जिस्म को रखु तेरे होठं को अपने होठं से मस्लू तुम्हे प्यार मै इतने शिद्दत से करू की उस मीठे दर्द से तेरी...

मीठा एहसास

प्यार का मीठा एहसास दिलाने लगी हो तुम अब तो मुझको मुखी से चुराने लगी हो तुम तेरी चाहत का छाया है सुरूर इस कदर हर पल...

सच्ची झूठी बातें

सच्ची झूठी बातें रवि शंकर साह ------------------------------------------- आओ हम सब सच्ची झूठी बात करें। अपनों से अपनी दिल की बात करें। तुम हमारी जयजयकार करना। मैं तुम्हारी जयजयकार करूँगा। कुछ तुम...

मेरी तन्हाई

मैं भी कभी तन्हा ना रहुं "साथी", ये मेरी रब से थी हमेशां ही दुआ। तेरे जैसा हम सफर हो काश, यह तलाश का सफर खत्म हुआ।। तेरी...

सांस्कृतिक मूल्य

शीर्षक- सांस्कृतिक मूल्य (कविता) गर्व करें हम मूल्यों पर अपने, नमन करें हम मूल्यों को अपने। मानव धर्म का ज्ञान कराएं, मूल्य हमें इंसान बनाएं। नैतिकता का पाठ पढ़ाएं, मूल्य...

चार दिन का मेला

क्या लेके आया है? क्या लेके जाएगा? चार दिन की जिंदगी। चार दिन का मेला है। एक दिन बीता सीखने में दूजा दिन कुछ काम में । तीजे में कुछ...

ख़ौफ़ ए कोरोना

***ख़ौफ़ ए कोरोना*** ****************** हुआ है ख़ौफ़ ए कोरोना जब से आया है कोरोना बेखौफ़ हो कर घूमता है सर्वत्र विराजित कोरोना चहुंओर है रोना धोना रोमांच ले उड़ा कोरोना फांसले दरमियाँ...

बीस वर्षीय बधाई

**** बीस वर्षीय बधाई ***** ************************ बीस वर्षों की हुई है कमाई बजती है खुशियों की शहनाई रही गमजदा तो कभी खुशनुमा सांसे खुश्क गले में अटकाई उतार चढाव भरी...